ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
विशाखापट्टनम रवाना हुए राज्य के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी,
May 7, 2020 • ASHWANI JAISWAL • देश

पीएम मोदी की आपात बैठक जारी, गृहमंत्री अमित शाह और रक्षामंत्री राजनाथ सिंह मौजूद
सीएम रेड्डी स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं, अधिकारियों को तत्काल कदम उठाने और सभी सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए

विशाखापट्टनम ।      आंध्र प्रदेश के विशाखापट्टनम में एलजी पॉलिमर उद्योग में रासायनिक गैस लीक हो गई। आरआर वेंकटपुरम गांव में गुरुवार की सुबह हुई इस घटना में सात लोगों की मौत हो गई जबकि 800 से ज्यादा अस्पताल में भर्ती हैं। घटना को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनडीएमए की आपात बैठक बुलाई है। बैठक में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह और राजनाथ सिंह भी मौजूद हैं। फिलहाल गैस के रिसाव पर काबू पा लिया गया है। ग्रेटर विशाखाट्टनम नगर निगम ने रासायनिक संयंत्र के आसपास के लोगों से घरों में ही रहने और अपने मुंह और नाक को ढकने के लिए गीले कपड़े का इस्तेमाल करने को कहा है।निगम ने एक ट्वीट में कहा, कंपनी के आसपास रहने वाले लोगों से आग्रह है कि वे सुरक्षा एहतियात बरतते हुए घरों से बाहर नहीं निकलें। निगम ने कहा, अपनी नाक और मुंह को ढकने के लिए कृपया गीले कपड़े का मास्क की तरह इस्तेमाल करें। राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) के महानिदेशक एसएन प्रधान ने कहा कि स्थानीय लोगों ने गले और त्वचा में जलन की सूचना दी, फिर पुलिस और प्रशासन हरकत में आया। लगभग 1000-1500 लोगों को निकाला गया है, जिनमें से 800 से अधिक लोगों को अस्पताल ले जाया गया है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने गैस लीक की घटना पर दुख जताते हुए पार्टी के स्थानीय नेताओं एवं कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि वे प्रभावित लोगों की हरसंभव मदद करें। उन्होंने ट्वीट किया, 'मैं विजाग (आंध्र प्रदेश) में गैस लीक के बारे में सुनकर स्तब्ध हूं। मैं इलाके के कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं से आग्रह करता हूं कि वे प्रभावित लोगों की हरसंभव मदद करें। पीड़ित परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है। मैं अस्पताल में भर्ती लोगों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं। आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी ने गैस लीक की घटना के बारे में पूछताछ की है और जिले के अधिकारियों को जिंदगी बचाने और स्थिति को नियंत्रण में लाने के लिए हर संभव कदम उठाने के निर्देश दिए हैं।मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा कि सीएम बीमारों से मिलने के लिए अस्पताल के लिए रवाना हो गए हैं। मुख्यमंत्री स्थिति की बारीकी से निगरानी कर रहे हैं और अधिकारियों को तत्काल कदम उठाने और सभी सहायता प्रदान करने के निर्देश दिए हैं।