ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों में बनेंगे कोविड-19 कलेक्शन सेंटर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
April 7, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

जिन मंडलों में मेडिकल कॉलेज नहीं है, वहां स्थापित की जाएगी कोविड-19 टेस्टिंग लैब।

12 मेडिकल कॉलेजों को अपग्रेड कर वहां नई बीएसएल-3 लैब बना रहे हैं।

7 अप्रैल, लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश के सभी 75 जनपदों में कोविड-19 की जांच के लिए कलेक्शन सेंटर स्थापित किए जाएंगे। उत्तर प्रदेश के जिन 6 मंडलों में सरकारी मेडिकल कॉलेज नहीं है, उन सभी के मुख्यालयों पर टेस्टिंग लैब स्थापित किए जाएंगे। जिसके अंतर्गत देवीपाटन (गोण्डा), मिर्जापुर, बरेली, मुरादाबाद, अलीगढ़ और वाराणसी के बीएचयू हॉस्पिटल में एक लैब बनाने की प्रक्रिया को हम आगे बढ़ा रहे हैं। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में 130 करोड़ भारतीय पूरी तत्परता के साथ कोरोना वायरस को समाप्त करने में जुटे हुए हैं। इसे हम अब तक के सबसे बड़े अभियान का हिस्सा मान सकते हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में पिछले 4-5 दिनों में कोरोना पॉजिटिव केसों की संख्या बढ़ी है। आज प्रदेश में कुल 308 केस हैं और इनमें से 168 केस तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। भारत सरकार की मदद से प्रदेश में इसे हर स्तर पर रोकने के लिए प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब कोरोना का पहला पॉजिटिव केस आया, तब प्रदेश में एक भी लैब नहीं थी। भारत सरकार के सहयोग से उत्तर प्रदेश में आज 10 टेस्टिंग लैब सफलतापूर्वक कार्य कर रही हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कोविड-19 के खिलाफ प्रदेश सरकार ने उत्तर प्रदेश कोविड केयर फंड की स्थापना की है। जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ समाज के विभिन्न तबकों का इस केयर फंड को व्यापक समर्थन मिल रहा है। हमारी सरकार ने तय किया है कि कोविड केयर फंड का उपयोग प्रदेश के अंदर टेस्टिंग सुविधाओं और कोविड हॉस्पिटल (लेवल-1, लेवल-2 और लेवल-3) की संख्या को बढ़ाने में करेंगे। इसके अलावा कोरोना से लड़ाई में आवश्यक उपकरणों जैसे- पीपीई किट, एन-95 एवं थ्री लेयर मास्क, वेटिंलेटर और थर्मल एनालाइजर की मैन्यूफैक्चरिंग प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए प्रदेश सरकार लगातार कार्य कर रही है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रदेश के अंदर हमारे पास 24 सरकारी मेडिकल कॉलेज हैं। जिसमें से 12 मेडिकल कॉलेजों को अपग्रेड किया जा रहा है। इन मेडिकल कॉलेजों में नई बीएसएल-3 लैब बनाई जा रही है। जहां किसी भी प्रकार के वायरस की जांच के साथ-साथ रिसर्च की भी सुविधा उपलब्ध होगी। इसके अलावा अन्य 12 मेडिकल कॉलेजों में भी कोविड- 19 की टेस्टिंग लैब को स्थापित करने की प्रक्रिया को हम आगे बढ़ा रहे हैं।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि कहीं भी भोजन का संकट न आने पाए व किसी भी प्रकार के उपचार में कहीं कोई शिथिलता न हो। इस बात को लेकर उत्तर प्रदेश की टीम-11 को स्पष्ट निर्देश दिया गया है। उन्होंने कहा कि  सभी लोग लॉकडाउन के अनुशासन को स्वीकार करें और सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर आगे बढ़ें। कोरोना से विजय में निश्चित तौर पर उत्तर प्रदेश को सफलता मिलेगी।