ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
प्रधानमंत्री के बीस लाख करोड़ की आर्थिक पैकेज की कुछ खास बातें
May 13, 2020 • ASHWANI JAISWAL • देश

आर्थिक पैकेज की कुछ खास बातें

25लाख से लेकर 1करोड़ रुपए की इन्वेस्टमेंट कर जो 5करोड़ तक का व्यापार करेगा माइक्रो यूनिट कहलाएगा। स्मॉल के लिए 10करोड़ तक का निवेश और 50करोड़ तक का कारोबार और मीडियम में 20करोड़ तक का निवेश और 100करोड़ तक के टर्नओवर का प्रावधान किया गया है: वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर

अब 200 करोड़ तक के सरकारी कामों के लिए ग्लोबर टेंडर नहीं होंगे, 10 करोड़ तक का निवेश और 50 करोड़ के टर्नओवर वाले इंटरप्राइज को स्मॉल यूनिट माना जाएगा, 20 करोड़ तक का निवेश और 100 करोड़ के टर्नओवर वालों को मीडियम इंटरप्राइज माना जाएगाः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

कर्मचारियों को पीएफ के भुगतान में नियोक्ताओं को अधिक वेतन देने और नियोक्ताओं को राहत देने के लिए, ईपीएफ अंशदान 3 महीने के लिए व्यवसायों और श्रमिकों के लिए कम किया जा रहा है, जिसकी राशि 6750 करोड़ रुपये की तरलता सहायता है, एमएसएमई के लिए ई-मार्केट लिंकेज पर जोर दिया जाएगा। सरकार एमएसएमई का बाकी  पेंमेंट 45 दिनों के अंदर करेगीः वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

एमएसएमई के लिए ई-मार्केट लिंकेज पर जोर दिया जाएगा। सरकार एमएसएमई का बाकी  पेंमेंट 45 दिनों के अंदर करेगीः वित्त मंत्री

सरकार ने गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों, माइक्रोफाइनेंस कंपनियों, हाउसिंग फाइनेंस कंपनियों के लिए 30,000 करोड़ रुपये की विशेष तरलता योजना शुरू की: एफएम सीतारमण

200 करोड़ से कम वाले में ग्लोबल टेंडर नहीं होंगे। इससे लघु ,सूक्ष्म, मध्यम उद्योगों को लाभ मिलेगा। आत्मनिर्भर भारत की तरफ ये एक और कदम है: वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर

केंद्र ने MSMEs सहित व्यवसायों के लिए 3 लाख करोड़ रुपये के जमानत-मुक्त स्वत: ऋण की घोषणा की
15,000 से कम वेतन वालों का पीएफ अगले 3 महीने तक सरकार देगी। 72 लाख कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा। 2,500 करोड़ का लाभ लोगों को इस योजना से मिलेगाः वित्त मंत्री