ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
पंचायत चुनाव का दायरा काफी हद तक सिमटा
October 14, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

अगले साल होने वाले पंचायत चुनाव का दायरा काफी हद तक सिमटा नजर आएगा। वर्ष 2015 में हुए पंचायत चुनाव में जहां जिले की 570 ग्राम पंचायतों में चुनाव हुए थे, वहीं अगले साल होने वाले चुनाव में ग्राम पंचायतों की संख्या घटकर 495 रह जाएगी। बीते चुनाव में शामिल 75 ग्राम पंचायतों के नगर निगम सीमा में शामिल हो जाने से अबकी वह पंचायत चुनाव से बाहर हो गई हैं।

राज्य निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण के लिए जारी अधिसूचना में जिले के आठ ब्लॉक की 495 ग्राम पंचायतों को ही पंचायत चुनाव में शामिल किया है। इसमें सबसे ज्यादा 26 गांव चिनहट ब्लॉक और 23 गांव सरोजनी नगर ब्लॉक से पंचायत चुनाव के घेरे से बाहर आए हैं। वर्ष 2015 में हुए पंचायत चुनाव के दौरान आठ ब्लॉक की 570 ग्राम पंचायतों में 31 जिला पंचायत सदस्य, 787 बीडीसी व 7256 ग्राम पंचायत सदस्यों के निर्वाचन को मतदान हुआ था। पांच साल के दौरान शहरीकरण के कारण इनमें से 75 ग्राम पंचायतें पूरी तरह और चार आंशिक तौर पर नगर निगम के दायरे में आने से पंचायत चुनाव से हो गई हैं। इससे जिला पंचायत सदस्य के दो, बीडीसी के 75 और ग्राम पंचायत सदस्य के करीब 800 पदों पर अगले चुनाव नहीं हो सकेंगे।
सबसे ज्यादा हटी चिनहट व सरोजनी नगर की

ग्राम पंचायत पंचायत चुनाव का दायरा सिमटने का सबसे ज्यादा नुकसान शहरी इलाके से जुड़े चिनहट व सरोजनी नगर ब्लॉक के गांवों को हुआ है। सदर तहसील के चिनहट ब्लॉक के अल्लू नगर डिगुरीय, घेला, मुतकीपुर, तिवारीपुर, लौलाई नौबस्ताकला, सेमरा, सरायशेख, धांवा व खरगापुर सहित सर्वाधिक 26 गांव और इसके बाद सरोजनी नगर ब्लॉक के सदरौना, अनौरा, औरावां, बिजनौर, रामचौरा, नटकुर,कल्ली पशिचम, किशुनपुर कौडिया व हरिहरपुर सहित 23 गांव पंचायत चुनाव के दायरे से हटे हैं।
इसी तरह बीकेटी में मिश्रपुर, गुडम्बा, दसौली व गोयला सहित नौ गांव, काकोरी में मौरा, जेहटा, सैथा व सलेमपुर पटौरा सहित 9 गांव मोहनलालगंज ब्लॉक में डेहवा, पुरसेनी, गौरा, अतरौली सहित पांच गांव और गोसाईगंज ब्लॉक में मस्तेमउ, सोनई कजेहरा संग तीन गांव नगर निगम सीमा में शामिल हो जाने से पंचायत चुनाव की सीमा से हटाए गए हैं।
घर बैठे वोटर लिस्ट में जुड़वाइए नाम
एडीओ पंचायत एसके सिंह ने बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग ने पात्रता पूरी करने वालों को घर बैठे भी ऑनलाइन वोटर लिस्ट में नाम जुड़वाने या दुरुस्त कराने का मौका दिया है। इसके लिए राज्य निर्वाचन आयोग की वेबसाइट sec.up.nic.in पर जाकर मतदाता घर बैठे ऑनलाइन अपना नाम पंचायत चुनाव की वोटर लिस्ट में जुड़वाने का आवेदन कर सकेंगे। प्राप्त होने वाले ऑनलाइन आवेदन पत्रों की जांच व निस्तारण का कार्य 6 से 12 नवंबर के बीच होगा।