ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
नहर के उफान मारने से हजारों एकड़ फसल बर्बाद
March 8, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

दबंगों ने बांधी नहर आगे के कई गांव के किसानों को नहीं मिल रहा सिंचाई के लिए पानी।

सिंचाई एक्सीयन से लेकर पुलिस तक 20 दिन से गुहार लगा रहे है सैकड़ो किसान।

कौशांबी। मंझनपुर तहसील के उमरा टेवा गांव के पास जगह जगह पर नहर को बांधकर कुछ दबंगों ने नहर का पानी रोक दिया है जिससे नहर उफान मार रही है बीते 20 दिन पूर्व नहर के पानी को रोके जाने से क्षेत्र की हजारों एकड़ फसल जलमग्न से बर्बाद हो चुकी है जिससे किसानों के सामने मुसीबत का पहाड़ टूट पड़ा है हजारो किसानों की इस गम्भीर समस्या के समाधान को जनप्रतिनिधियों ने भी अभी तक पहल नही की है जिससे जनप्रतिनिधियों की बेरुखी भी किसानों के प्रति उजागर हो रही है

जलमग्न फसल को बचाने के लिए कई बार किसानों ने सिंचाई विभाग से लेकर पुलिस विभाग तक बंधी नहर को खुलवाने की गुहार लगाई लेकिन नहर विभाग के और पुलिस बिभाग के अधिकारी कुम्भकर्णी नींद में सो रहे हैं किसानों की बर्बादी को तमाशबीन बनकर योगी सरकार के अधिकारी देख रहे हैं

अपनी गाढ़ी कमाई की फसल को जलमग्न से बर्बाद होते देख कर सैकड़ो किसान परेशान है और उन किसानों के सामने भूखों मरने की नौबत आ सकती है वही टेवा उमरा के आगे पानी ना जाने से आगे के कई गांव के सैकड़ो किसानों के खेतों तक पानी नहीं पहुंच रहा है जिससे जिन किसानों के खेतों में पानी की जरूरत है उनके खेत सिंचाई के अभाव में सूख रहे हैं किसानों की समस्या पर सिंचाई बिभाग के अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया है 

अधिकारियों और जनप्रतिनिधियों की बेरुखी से मंझनपुर तहसील के हजारों किसान बर्बाद होने की कगार पर खड़े हैं योगीराज में नहर सिंचाई बिभाग के अधिकारियों की इस बेरुखी के चलते योगी सरकार की छवि खराब हो रही है अब समय रहते उमरा और टेवा के पास बांधी गई नहर को खुलवा कर नहर में पानी का बहाव सुचारु करने में अधिकारी किस हद तक पहल करते हैं यह भविष्य के गर्त में है