ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बनने वाली फिल्म सिटी पूरी दुनिया के लिए बनेगी मिसाल
September 22, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि उत्तर प्रदेश में बनने वाली फिल्म सिटी पूरी दुनिया के लिए मिसाल बनेगी। फिल्म सिटी पूरी तरह विश्व स्तरीय सुविधाओं से युक्त होगी। हमारा प्रयास रहेगा कि इसे मनोरंजन व ज्ञान के लिए समर्पित क्षेत्र बनाया जाए। आने वाला समय ओटीटी व मीडिया स्ट्रीमिंग का है। 

पर्यावरण के अनुकूल होगी फिल्म सिटी
फिल्म सिटी को पर्यावरण के अनुकूल बनाया जाएगा। फिल्म सिटी में पर्याप्त हरियाली होगी वहीं वायु, ध्वनि और जल प्रदूषण की रोकथाम के लिए पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे। फिल्म सिटी के अंदर इलेक्ट्रिक वाहन चलाए जाएंगे वहीं स्वच्छता के भी पुख्ता इंतजाम किए जाएंगे।
ये हैं प्रमुख लक्ष्य
फिल्म सिटी की स्थापना का प्रमुख लक्ष्य मीडिया और आर्ट प्रोडक्शन के लिए स्थान उपलब्ध कराना और फिल्म जगत के लोगों और पर्यटकों को स्वच्छ और सुरक्षित जगह उपलब्ध कराना है।

इसके अतिरिक्त मनोरंजन और अध्ययन के अवसर उपलब्ध कराना है। यहां आने वाले फिल्म जगत से जुड़े लोगों और पर्यटकों को रेल, सड़क और वायु मार्ग की बेहतर कनेक्टिविटी की सुविधा उपलब्ध कराना है।
 
डिजिटल टीवी स्टूडियो भी बनेगा
फिल्म सिटी में एक बड़ा डिजिटल टेलीविजन स्टूडियो भी बनाया जाएगा। इसमें बड़े सेट, लाइटिंग रिंग होगी। स्टूडियो में गैलेरी, ग्रीन रूम, ऑफिस, लग्जरी ड्रेसिंग रूम और दर्शकों के बैठने की सुविधा भी होगी।

शूटिंग देख सकेंगे पर्यटक
फिल्म सिटी घूमने आने वाले पर्यटक वहां चल रही फिल्मों की शूटिंग भी देख सकेंगे। इसके लिए एक दर्शन गैलेरी बनाई जाएगी, जहां फिल्म सिटी में चल रही सभी शूटिंग को स्क्रीन पर देख सकेंगे। इसके अतिरिक्त ग्लास रूम से भी शूटिंग देखने को मिलेगी।

अंतर्राष्ट्रीय बॉलीवुड म्यूजियम
फिल्म सिटी में अंतर्राष्ट्रीय बॉलीवुड म्यूजियम स्थापित किया जाएगा। इसमें कला की सुविधाओं का प्रदर्शन होगा। इसमें भारतीय सिनेमा के विस्तृत इतिहास का प्रस्तुतीकरण किया जाएगा। इसमें फिल्मों के प्रदर्शन, फिल्मों के इतिहास और फिल्म निर्माण के विभिन्न चरणों का भी प्रदर्शन किया जाएगा।

एक ही परिसर में मिलेगा मंदिर, बाजार और गांव
फिल्म सिटी में शुूर्टिंग के लिए एक ही परिसर में हर राज्य के गांवों का सेट उपलब्ध रहेगा। वहीं आउटडोर लोकेशन के लिए बाजार, मंदिर, दुकान, आकर्षक पार्क, तालाब और पहाड़ भी रहेंगे।
फिल्म यूनिवर्सिटी बनेगी
फिल्म सिटी में एक फिल्म यूनिवर्सिटी की स्थापना भी की जाएगी। इसमें राज्यों की कला और संस्कृति के अध्ययन की सुविधा मिलेगी। वहीं विद्यार्थियों के पास मीडियो प्रोफेशनल के साथ काम करने का अवसर मिलेगा। सीखने और काम करने का जीवंत स्थान होगी।

पर्यटन को मिलेगा बढ़ावा
फिल्म सिटी का उपयोग केवल फिल्म जगत के लोगों के लिए नहीं होगा बल्कि यह प्रदेश में पर्यटन का बड़ा केंद्र भी होगी। यहां पार्क, एम्यूजमेंट पार्क, लैंड स्कैपिंग, आकर्षक मूर्तियां होटल, रेस्तरां और शॉपिंग कॉम्पलैक्स भी होंगे।

हर स्तर के होटल होंगे
फिल्म सिटी में डोरमेट्री से लेकर बजट होटल और तीन से लेकर पांच सितारा होटल तक स्थापित होंगे। कंवेंशन हॉल की सुविधा भी रहेगी।

तेजी से बढ़ा मीडिया और मनोरंजन इंडस्ट्री का कारोबार
2017 से 2020 के बीच देश में मीडिया और मनोरंजन इंडस्ट्री का कारोबार तेजी से बढ़ा है। 2017 में जहां टेलीविजन, प्रिंट, फिल्म मनोरंजन डिजिटल मीडिया और एनिमेशन मूवी का कारोबार 595 अरब रुपये था, वह 2020 में 10 हजार 67 अरब से ज्यादा पहुंचने का अनुमान है।
 
यह होंगे फिल्म सिटी के प्रमुख आकर्षण
- फिल्म प्रोडक्शन
- स्टूडियो
- आउटडोर लोकेशन
- पोस्ट प्रोडक्शन
- होटल
- क्लब हाउस
- गांव
- वर्कशॉप
- फिल्म यूनिवर्सिटी
- फूड कोर्ट
- रिटेल एंड शॉपिंग
- पर्यटन एवं मनोरंजन
- एम्युजमेंट पार्क

पांच जोन में होगी फिल्म सिटी
- प्रवेश और ऑफिस
- शूटिंग एरिया और आवासीय क्षेत्र
- थीम पार्क और आउटडोर लोकेशन
- यूनिवर्सिटी और स्टूडियो कक्ष
- एयरपोर्ट

यह रहेगी जमीन की दर
4 हजार वर्ग मीटर तक  - 6670 रुपये प्रति वर्ग मीटर
4 से 8 हजार वर्ग मीटर तक -5680 रुपये प्रति वर्ग मीटर
8 से 20 हजार वर्ग मीटर तक - 4810 रुपये प्रति वर्ग मीटर
20 से 40 हजार वर्ग मीटर तक - 4370 रुपये प्रति वर्ग मीटर
40 से 80 हजार वर्ग मीटर तक- 4210 रुपये प्रति वर्ग मीटर
80 हजार वर्ग मीटर से अधिक -4050 रुपये प्रति वर्ग मीटर

पानी की दर
ट्यूबवैल और रिसाइकिल पानी - 4 रुपये प्रति किलो लीटर

बिजली भी सस्ती मिलेगी
जहांगीरपुर में स्थित 768 किलोवॉट के सबस्टेशन और फिल्म सिटी के प्रस्तावित स्थल से 3 किलोमीटर दूर स्थित सेक्टर 32 में स्थित 400 केवी के सबस्टेशन से 6.8 रुपये प्रति किलोवॉट की दर से बिजली आपूर्ति की जाएगी।