ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
लक्ष्मण रेखा पार करोगे तो कोरोना से बचना बहुत मुश्किल:- पीएम
March 29, 2020 • ASHWANI JAISWAL • देश

देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 63 वी बार मन की बात में देशवासियों से अपील की वह लक्ष्मण रेखा पार नही करें। और कहा की वह हाथ जोड़कर सबसे पहले  माफी मांगते है क्योंकि कोरोना संक्रमण के चलते  मुझे  कई कड़े फैसले लेने पड़े और इससे देशवासियों को कई मुश्किलों का सामना करना पड़ा। 
 कोरोना से लड़ाई, जीवन मृत्यु का संघर्ष  प्रधानमंत्री मोदी ने कहा बीमारी से शुरू में ही निपट लेना चाहिए  था। 
 पीएम आचार्य चरक ने कहा कि  धर्म और किसी कामना को लेकर नही जो मानवता के लिए  इलाज करता है वह सर्वश्रेष्ठ डॉक्टर होता है। डॉक्टर जो कहते है उन्हें ध्यान से सुनना हमारा कर्तव्य है। कोरोना से लड़ने वाले हमारे साथियों को नमन करना चाहिए। वही कुछ लोग इस महामारी से उत्पन्न होने वाले हालातो को नही समझ रहे है और बिल्कुल भी इसको गम्भीरता से नही ले रहे है। 
 हमे कोरोना से लड़ने वाले साथियों से प्रेरणा लेनी चाहिए। 

इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कहा की जो लोग लोग नियमों को तोड़ रहे है । वह अपने जीवन से खिलवाड़ कर रहे है। प्रधानमंत्री ने सोशल डिस्टेसिंग पर बोलते हुए कहा की 
 हमे सोशल डिस्टेसिंग बढ़ाना है और इमोशनल  डिस्टेसिंग घटाना है। सयंम और संकल्प हमे इस महामारी से निजात दिलाएगा। प्रधानमंत्री ने इस दौर को जीवन और मृत्यु के समय धैर्य के साथ लड़ने की अपील की और कहा की हमे इस जंग में जितना है। प्रधानमंत्री ने इस संकट के दौर में गरीबो से हाथ जोड़कर माफी मांगते हुए कहा की मैं उनकी परेशानियों से अवगत हू मगर देशहित में 130 करोड़ वाले देश की जनता की सुरक्षा को ध्यान मे रखते हुए मुझे कड़े फैसले लेने पड़े।


 प्रधानमंत्री मोदी ने  इस संकट के दौर में स्वास्थ्य से सम्बंधित  फिटनेस पर बोलते  हुए कहा की वह कोई फिटनेस एक्सपर्ट और योग टीचर नही है फिर भी वह कुछ अपने वीडियो अपने   नमो एप  पर शेयर करेंगे जो वह सुबह करते है।
 मन की बात में प्रधानमंत्री की एक बात से यह जरूर स्पस्ट हो गया कि सरकार को यह अंदाजा नही था कि हालात इतने बुरे हो जायेंगे की दिहाड़ी मजदूर रोड पर आ जाएंगे और हालात इतने खराब हो जायेंगे की उन्हें संभाल पाना बहुत मुश्किल होगा। देश में स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े लोगों के बारे में प्रधानमंत्री ने चिंता करते हुए कहा कि उनका भी परिवार है और वह लोग देश हित में अपनी सेवाओं को देने में लगे हुए हैं  मैं सबकी दिक्कत समझता हूं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने  20 लाख स्वास्थ्यकर्मियों के 50 लाख बीमे की भी घोषणा की।
 मन की बात में नरेंद्र मोदी ने देश के कई डॉक्टरों से बात की। जिसमें पुणे के नायडू अस्पताल के डॉक्टर से बात की। कोरोना संक्रमण से ठीक हुए मरीज  से भी पीएम  ने बात की।