ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
कोरोना महामारी के बीच भाजपा जनता तक वर्चुअल रैली और जनसंपर्क कर केंद्र की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाएगी
June 10, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

कोरोना महामारी के बीच प्रदेश भाजपा जनता तक पहुंच बनाने की कवायद में जुट गई है। इसका पूरा खाका तैयार कर लिया गया है। पार्टी वर्चुअल रैली और जनसंपर्क कर केंद्र की उपलब्धियों को जन-जन तक पहुंचाएगी। बुधवार से अभियान का आगाज किया जाएगा। 

इसके तहत दिल्ली के सभी सांसद, विधायक, पार्षद और कार्यकर्ता सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए 15 लाख लोगों के बीच प्रधानमंत्री की ओर से देश की जनता के नाम चिट्ठी के साथ ही उपलब्धियों की बुकलेट पहुंचाएंगे। इसके लिए हर बूथ पर दो-दो कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई है। प्रदेश महामंत्री राजेश भाटिया कार्यक्रम संयोजक एवं उपाध्यक्ष राजीव बब्बर सह-संयोजक होंगे। 
मंगलवार को आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस में प्रदेश अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने बताया कि दूसरे कार्यक्रम के तहत 13 जून को केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी प्रदेश कार्यालय से वर्चुअल रैली को संबोधित करेंगी। इसके लिए दिल्ली में दो हजार से अधिक प्वाइंट बनाए गए हैं। मंडल स्तर के पदाधिकारी 20 से 25 लोगों के साथ सरकार का संदेश पहुंचाएंगे। इसके अलावा सोशल मीडिया के सभी प्लेटफार्म पर भी स्मृति ईरानी का भाषण सुन सकते हैं। 
वर्चुअल रैली के लिए दिल्ली के विभिन्न क्षेत्रों में 2000 स्थान निर्धारित किए गए है।  तीसरे कार्यक्रम में दिल्ली की जनता को कोरोना से लड़ने के लिए मजबूती प्रदान की जाएगी। भाजपा के सभी मोर्चे के पदाधिकारी 15 लाख फेस कवर और 7.5 लाख सेनिटाइजर बांटेंगे। चौथे कार्यक्रम के तहत दिल्ली की सभी 70 विधानसभा क्षेत्रों में वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये भाजपा कार्यकर्ता और जनता से सीधा संवाद किया जाएगा। 

स्वास्थ्य व्यवस्था को लेकर भाजपा ने एलजी को लिखा पत्र
भाजपा ने दिल्ली की स्वास्थ्य सेवा सुधारने व बेड की संख्या बढ़ाने के संदर्भ में दिल्ली के उपराज्यपाल को एक पत्र लिखा है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता व विधानसभा नेता प्रतिपक्ष रामवीर सिंह बिधूड़ी तरफ से लिखे गए पत्र में कहा गया है कि कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है। 29 हजार से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें कई स्वास्थ्य व पुलिसकर्मी शामिल हैं। 

31 जुलाई तक कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या 5.5 लाख तक पहुंच सकती है। अगर ऐसा हुआ तो पहले से ही चरमराई दिल्ली की स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह ध्वस्त हो जाएगी। यह भी बताया गया है कि दिल्ली सरकार इस मोर्चे पर नाकाम साबित रही है। दिल्ली में टेस्टिंग की रफ्तार काफी कम है। उधर, भाजपा सांसद मीनाक्षी लेखी ने कहा है कि दिल्ली सरकार ने स्वास्थ्य सुविधा को बेहतर करने के लिए पिछले छह साल में कोई ठोस कदम नहीं उठाया।