ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
कॉलोनी में रहने वाली एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म
October 26, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

प्रतापगढ़ शहर की कॉलोनी में रहने वाली एक महिला के पति ने न्यायालय कर्मी पर दुष्कर्म करने का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया है। उसे रविवार रात जिला महिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। इलाज के दौरान उसके परिजन हंगामा करने लगे। 

सूचना पर एएसपी पूर्वी अस्पताल पहुंचे। पुलिस ने आरोपी न्यायालयकर्मी को हिरासत में ले लिया है। शहर स्थित एक कॉलोनी में रहने वाली महिला दस दिन पहले अपने मायके गई थी। पति ने पुलिस को तहरीर देकर आरोप लगाया है कि रविवार रात वह शौच के लिए खेत तरफ गई थी।  
काफी देर बाद भी वह नहीं लौटी। इस पर उसकी खोजबीन शुरू की गई। इस दौरान वह एक पपिंगसेट के कमरे में मिली। न्यायालय कर्मी अतुल पांडेय ने उसकी पत्नी के साथ दुष्कर्म किया और धमकाते हुए चला गया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पीड़िता की हालत खराब देख उसे महिला अस्पताल में भर्ती कराया। 
घटना की खबर मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी सुरेंद्र प्रसाद मौके पर पहुंचे। प्रकरण की छानबीन के बाद अस्पताल पहुंचकर पीड़िता का बयान लिया। अस्पताल में पीड़िता हंगामा करती रही। 
पहले पीड़िता का पति अतुल पांडेय के अलावा तीन और लोगों पर सामूहिक दुष्कर्म का आरोप लगाता रहा। हालांकि तहरीर में उसने केवल अतुल को ही नामजद किया। पुलिस अधीक्षक अनुराग आर्य ने बताया कि दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कर आरोपी को हिरासत में ले लिया गया है। घटना की छानबीन की जा रही है। पीड़िता का अस्पताल में इलाज चल रहा है।

पीड़िता के साथ पांच साल पहले हुआ था सामूहिक दुष्कर्म
न्यायालय कर्मी अतुल पांडेय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली महिला के साथ करीब पांच साल भी सामूहिक दुष्कर्म हुआ था। महिला आयोग के निर्देश पर दिल्ली में मुकदमा दर्ज कर कोतवाली में जांच के लिए भेजा गया था। जिसकी जांच क्राइम ब्रांच द्वारा अभी की जा रही है।

इस मामले में एक तांत्रिक समेत चार आरोपियों को पुलिस जेल भेज चुकी है। कुछ आरोपियों ने न्यायालय से स्थगन आदेश ले रखा है। पीड़िता का आरोप था कि कुछ लोग उसे प्रयागराज समेत दूसरी जगहों पर होटलों में ले गए और बलात्कार किया था। उसे देह व्यापार के धंधे में धकेल दिया था। विरोध करने पर उसे धमकाया जाता रहा। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पति-पत्नी आंदोलन भी करते रहे।