ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
जिलाधिकारी ने टीम-11 के अधिकारियों के साथ की बैठक दिये आवश्यक दिशा निर्देश 
May 12, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

जिला महिला/पुरूष चिकित्सालय तथा राजगढ़ कटवली हॉटस्पाट घोषित-जिलाधिकारी

हॉट-स्पाट एरिया परिसर में प्रवेश व निकास एवं वाहनों का संचालन प्रतिबन्धित-जिलाधिकारी

प्रतापगढ़।  जिलाधिकारी डा0 रूपेश कुमार की अध्यक्षता में आज कैम्प कार्यालय के सभागार में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं आमजनमानस को आवश्यक सुविधाये सुनिश्चित करने हेतु गठित टीम-11 के साथ बैठक की गयी। बैठक में जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस (कोविड-19) की जांच में जिला महिला चिकित्सालय प्रतापगढ़ में भर्ती राजगढ़ कटवली निवासी एक प्रसूता की रिपोर्ट पाजिटिव पायी गयी। अतः कोविड-19 के फैलाव को रोकने एवं बचाव नियंत्रण हेतु जिला महिला/पुरूष चिकित्सालय तथा राजगढ़ कटवली ग्रामसभा को हॉट-स्पाट एरिया के रूप में घोषित किया गया है। हॉटस्पाट एरिया में प्रवेश व निकास एवं वाहनों को संचालन को (अपरिहार्य स्थिति को छोड़कर) प्रतिबन्धित किया जाता है। इस अवधि में आवश्यक सामग्रियों को लेकर आने-जाने वाले वाहन प्रतिबन्ध से मुक्त रहेगें किन्तु कोई वाहन प्रतिबन्धित क्षेत्र में अनावश्यक रूप से नही रूकेगा। प्रतिबन्धित क्षेत्र में किसी भी प्रकार के बैंक, दुकान आदि अग्रिम आदेशों तक नही खुलेगें, प्रतिबन्धित क्षेत्र में दवाई, दूध, फल, सब्जी आदि की उपलब्धता डोर-टू-डोर की जायेगी। हॉट-स्पाट एरिया में निवास करने वाले समस्त व्यक्तियों अपने-अपने आवास पर रहेगें, आदेश का उल्लंघन करने पर भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 एवं उत्तर प्रदेश महामारी कोविड-19 विनियमावली-2020 के अधीन दण्डनीय अपराध माना जायेगा। इस अवधि में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये मजिस्ट्रेटों की नियुक्ति कर दी गयी है। उन्होने बताया है कि मजिस्ट्रेट के रूप में जिला महिला/पुरूष चिकित्सालय हेतु मुरलीधर यादव सहायक चकबन्दी अधिकारी तथा राम अधार पाल आबकारी निरीक्षक सदर को एवं राजगढ़ कटवली ग्रामसभा हेतु अविनाश पाण्डेय ए0आई0जी स्टाम्प एवं मनोज दूबे सहायक चकबन्दी अधिकारी पट्टी की ड्यिटी लगायी गयी है।   
बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देशित करते हुये कहा कि अनटाइड फण्ड से ग्रामसभा के खाते में जो धनराशि भेजी जाती है उस धनराशि से गांव में सेनेटाइजेशन का कार्य प्राथमिकता के आधार पर कराया जाये। उन्होने उपजिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुये कहा कि जनपद में ट्रेन के माध्यम से आने वाले प्रवासी श्रमिकों को पहले फैसेलिटी सेन्टर पर रोककर थर्मल स्क्रीनिंग करने के पश्चात् उन्हें राशन किट देकर 21 दिनों के लिये होम क्वारेन्टाइन हेतु भेजा जाये। जनपद में आने वाले किसी भी प्रवासी श्रमिक को ग्रामसभा में स्थापित प्राथमिक विद्यालय या पंचायत घर में क्वारेन्टाइन नही किया जायेगा, जिन प्रवासी श्रमिकों के पास घर पर पृथक कमरें में रहने की व्यवस्था न हो उन्हें जनपद के तहसीलों के अन्तर्गत महाविद्यालय एवं इण्टर कालेज में बने फैसेलिटी क्वारेन्टाइन सेन्टर में रोका जाये। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डा0 अमित पाल शर्मा, उपजिलाधिकारी सदर मोहन लाल गुप्ता, जिला सूचना अधिकारी विजय कुमार सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।