ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
इलाज न मिलने से युवती की मौत
March 26, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

चंदे की रकम से हुआ अंतिम संस्कार।

परदेश में पिता मॉ की मौत मासूम बच्चो का रो रो कर बुरा हाल। 

कौशाम्बी। पति के परदेश जाने के बाद दो मासूम बच्चो के साथ घर में रह रही एक महिला की तबियत खराब होने पर इलाज न मिलने से उसकी मौत हो गयी है 

मौत के बाद चंदे की रकम से उसका अंतिम संस्कार ग्रामीणो ने कर दिया है। मृतक महिला के दो मासूम बच्चे है और पिता के परदेश में होने और मॉ की मौत के बाद दोनो बच्चे आनाथ हो गये है और दहाड मार कर रो रहे है। कोरोना वायरस के संभावित प्रकोप के चलते पूरे देश में 21 दिन के लॉक डाउन की घोषणा के बाद मृतक महिला का पति परदेश से कैसे वापस घर आयेगा। 

सिराथू तहसील क्षेत्र के अहिरारा गांव निवासी देवमनपाल रोजी रोटी के चक्कर में गैर प्रान्त में गये हुए है और कोरोना वायरस के संभावित बीमारी के बाद केन्द्र सरकार द्वारा लॉक डाउन घोशित किये जाने के बाद वह घर वापस नही लौट सके। 

उनकी पत्नी केशरानी उम्र लगभग 30 वर्ष और बेटी अंजली 6 वर्ष और बेटा अजय 4 वर्ष अहिरारा गांव के घर में रहते है अचानक देवमन की पत्नी केशरानी की तबियत खराब हुयी वह गर्भवती भी है इस विषम परिस्थितियो में चिकित्सको के अभाव के चलते उसे इलाज नही मिल सका जिससे उसकी मौत हो गयी।

 जानकारी मिलने के बाद एसडीएम सिराथू और चिकित्सको की टीम पुलिस बल के साथ मौके पर पहुची और मृतक परिवार को 3 हजार रूपये ग्राम प्रधान 2 हजार चौकी इंचार्ज 1 हजार रूपये हल्का लेखपाल ने दिया है तब मृतक गर्भवती महिला का अंतिम संस्कार हो सका है। पिता के परदेश में पडे होने और मॉ की मौत होने पर मासूम बच्चो का रो रो कर बुरा हाल है।