ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
बीच सड़क पर लुटेरों से पुलिस की मुठभेड़
August 21, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

आगरा में एटा के ट्रांसपोर्टर जय सिंह से 9.50 लाख रुपये लूटने आए बदमाशों को शुक्रवार को कैलाशपुरी में क्राइम ब्रांच ने घेर लिया। पुलिस के ललकारने पर बदमाशों ने फायरिंग कर दी। बीच सड़क फायरिंग से अफरातफरी मच गई। ट्रैफिक रुक गया। 

पुलिस ने भी गोलियां चला दीं। इसमें दो बदमाश गोली लगने से घायल हो गए। एक घायल बदमाश सहित तीन को बाइक फिसलने के दौरान पकड़ लिया, जबकि एक घायल सहित तीन भागने में सफल रहे। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। 
थाना हरीपर्वत के निरीक्षक अजय कौशल ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों में अलीगढ़ के अकराबाद निवासी लोकेंद्र यादव, एटा के जलेसर निवासी मनोज उर्फ भीमा और खंदौली के गांव बांस मोहन सहाय निवासी वेदांश हैं। लोकेंद्र यादव के एक पैर में गोली लगी है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया। 
रिश्तेदार को लूटने की योजना बनाई थी
पुलिस की पूछताछ में आरोपी लोकेंद्र ने बताया कि एटा के थाना पिलुआ के गांव गुलाबपुरा निवासी जय सिंह ट्रांसपोर्ट व्यवसायी हैं। वह उसका रिश्तेदार भी है। उसे सूचना मिली थी कि जय सिंह को ट्रांसपोर्ट नगर में ट्रक की बाडी बनवानी है। 

इसके लिए साढ़े तीन लाख रुपये लेकर शुक्रवार को जा रहा है। इसके अलावा छह लाख रुपये बैंक से निकालता। इस तरह से उसके पास साढ़े नौ लाख रुपये हो जाते। लोकेंद्र ने अपने साथियों के साथ उसे लूटने की योजना बनाई। लोकेंद्र पूर्व में पेट्रोल पंप पर लूट कर चुका है।  

दो बाइकों पर थे छह बदमाश 

निरीक्षक अजय कौशल के मुताबिक, बदमाशों को जानकारी थी कि जय सिंह कैलाशपुरी होता हुआ निकलेगा। इस पर पीछा करते हुए आ रहे थे। पुलिस को मुखबिर से बदमाशों के आने की जानकारी मिल गई थी। इस पर क्राइम ब्रांच ने भी घेराबंदी कर ली। बदमाश दो बाइक पर छह थे। पुलिस ने सभी को घेर लिया। 
इस पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस ने भी फायरिंग की। बीच सड़क फायरिंग से अफरातफरी मच गई। ट्रैफिक भी रुक गया। पुलिस के घेरने पर एक बाइक पर सवार तीन बदमाशों की बाइक फिसल गई। इस पर तीन बदमाशों को पकड़ा। इनमें लोकेंद्र गोली लगने से घायल हो गया था। दूसरी बाइक पर सवार बदमाश भाग निकले। 

घायल बदमाश सहित तीन की तलाश में चेकिंग 

पुलिस ने बताया कि लोकेंद्र गैंग का सरगना है। उसके तीन साथी बबलू उर्फ मामा, मोहन सहित एक अन्य फरार हो गए। इनमें एक बदमाश के गोली भी लगी है। वह बाइक से भागे थे। इस पर वायरलेस से सभी थानों की पुलिस को अलर्ट किया गया। चेकिंग के निर्देश दिए गए। मगर, वह हाथ नहीं आ सके। पुलिस सीसीटीवी कैमरों के फुटेज चेक कर रही है। बदमाश लोहामंडी होते हुए निकल गए। 

चांदी लुटेरों की तलाश में थी पुलिस 

पुलिस सूत्रों ने बताया कि कोठी मीना बाजार में चांदी लूटने वाले बदमाशों के बारे में पुलिस सर्विलांस से पड़ताल में लगी थी। तभी लोकेंद्र के गैंग के बारे में पता चल गया। इस पर पुलिस ने घेराबंदी कर ली।