ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आज इतिहास रचने उतरेगा भारत, सामने सर्वाधिक चार बार का चैंपियन ऑस्ट्रेलिया पहली बार खिताब के लिए आमने-सामने होंगी भारत-ऑस्ट्रेलिया
March 8, 2020 • ASHWANI JAISWAL • क्रिकेट

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आज इतिहास रचने उतरेगा भारत, सामने सर्वाधिक चार बार का चैंपियन ऑस्ट्रेलिया
पहली बार खिताब के लिए आमने-सामने होंगी भारत-ऑस्ट्रेलिया
पहली बार फाइनल पहुंचीं भारतीय महिलाएं
दोनों टीम का विश्व कप में चार बार हो चुका है आमना-सामना
दो बार भारत और दो बार ऑस्ट्रेलिया के पक्ष में आया नतीजा
8 मुकाबले ऑस्ट्रेलिया में भारत ने खेले हैं जिसमें चार जीते और चार हारे।

 हरमनप्रीत कौर की टीम ने 11 साल में पहली बार टी-20 विश्व कप के फाइनल में पहुंचकर इतिहास तो रच ही दिया है। अब टीम की निगाह महिला दिवस पर विश्व चैंपियन बनकर भारतीय महिला क्रिकेट का नया अध्याय लिखने की है। चार बार की रिकॉर्ड विजेता ऑस्ट्रेलिया को हराकर टूर्नामेंट का दमदार आगाज करने वाली भारतीय टीम के पहली बार विश्व चैंपियन बनने की राह में फिर मेजबान टीम ही है। लीग चरण में ऑस्ट्रेलिया को मात देने से भारत का पलड़ा भारी है। ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में होने वाले इस फाइनल मुकाबलों को लेकर भारतीय खिलाड़ी पूरी तरह से तैयार हैं। भारत की सफलता में 16 साल की शेफाली वर्मा की आक्रामक बल्लेबाजी का बड़ा योगदान है। वर्मा से फिर से तूफानी शुरुआत की उम्मीद रहेगी अगर शेफाली अच्छा प्रदर्शन नहीं करती तो भारत के लिए ग्रुप चरण में प्रतिस्पर्धी स्कोर बनाना मुश्किल हो जाता क्योंकि मध्य और निचले क्रम के बल्लेबाज खास योगदान नहीं दे पाए। शेफाली के बल्ले से 40 की औसत से चार मैच में 161 रन निकले हैं। लेग स्पिनर पूनम यादव ने उंगली की चोट से शानदार वापसी की। उन्होंने अब तक नौ विकेट लिए हैं और ऑस्ट्रेलिया की तेज गेंदबाज मेगान स्कट के साथ सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाजों में शीर्ष पर हैं। तेज गेंदबाज शिखा पांडे भी प्रभावशाली रही है जबकि बाएं हाथ की स्पिनरों राधा यादव और राजेश्वरी गायकवाड़ ने भी कसी गेंदबाजी की है। यह देखना दिलचस्प होगा कि ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज पूनम का कैसे सामना करते हैं क्योंकि पहले मैच में वे उनका सामना नहीं कर पाये थे। फाइनल के 75,000 से अधिक टिकट बिक चुके हैं और कुल 90,000 दर्शकों के पहुंचने की संभावना है जो कि महिला क्रिकेट में अप्रत्याशित कहा जाएगा। मेग लेनिंग की अगुवाई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम घरेलू दर्शकों के सामने अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रतिबद्ध है। दर्शकों में उसकी पुरुष टीम के प्रमुख गेंदबाज मिचेल स्टार्क भी शामिल होंगे जो अपनी घरेलू टीम और अपनी पत्नी एलिसा हेली का उत्साह बढ़ाने के लिए दक्षिण अफ्रीकी दौरा बीच में छोड़कर यहां पहुंचे हैं। ऑस्ट्रेलिया चोटिल खिलाड़ियों की समस्या से भी जूझ रहा है। तेज गेंदबाज तायला वलामिन्स्क शुरू में ही चोटिल हो गई थी जबकि स्टार आलराउंडर एलिस पेरी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेमीफाइनल से पहले बाहर हो गई। इसके बावजूद आस्ट्रेलिया फिर से फाइनल में पहुंचने में सफल रहा।