ALL दुनिया देश शहर और राज्य उत्तर प्रदेश राजनीति खेल क्रिकेट चुनाव बॉलीवुड ज्योतिष
अंतरराष्ट्रीय मार्केट में बढ़ी भारतीय कछुए की मांग
March 8, 2020 • ASHWANI JAISWAL • उत्तर प्रदेश

कौशाम्बी। पूरामुफ्ती थाना क्षेत्र के उजिहिनी गंगा घाट पर जिम्मेदार लोगों की संलिप्त होने की वजह से बिना रोक टोक हो रहा कछुए की तस्करी। बिहार प्रान्त के कुशल शिकारियों को बुलाकर करवाया जा रहा कछुए का शिकार। वर्षों पूर्व कोखराज इलाके से पकड़कर जेल भेजे जा चुके हैं तस्कर इलाकाई पुलिस की भूमिका पर जताया जा रहा है बड़ा संदेह।

 सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि इन दिनों गंगा - यमुना में पाए जाने वाले भारतीय कछुए की मांग औषधि के रूप में उपयोग करने के लिए विदेशी मार्केट में भारी मांग बढ़ी हुई है जिसके चलते तस्करों के द्वारा विभिन्न प्रांत से कुशल शिकारी को गैर प्रांत में बुलाकर इलाकाई लोगों को रुपए का लालच देकर आकर्षित कर लिया जाता है जिसके कारण इलाकाई लोग किसी के सामने कछुआ तस्कर के खिलाफ कुछ कहने से कतराते रहते हैं जिम्मेदार लोगों की भूमिका संलिप्त होने की वजह से बिना रोक टोक के शिकारियों को कछुए का शिकार करने में प्रोत्साहन भी मिल जाता है।

 सूत्र बताते हैं कि बिहार प्रांत से बुलाए गए कुशल शिकारियों के द्वारा उजिहनी गंगा घाट के किनारे खड़े होकर विशेष प्रकार की आवाज मुंह से निकालने मात्र से सभी कछुए किनारे आ जाते हैं जिससे शिकारियों को पकड़ने में आसानी होती है और प्रतिदिन शिकारियों के द्वारा सैकड़ों कछुए पकड़कर तस्कर के हवाले कर कर देते हैं और तस्कर इसी घाट पर कछुए का वभिन्न प्रांत से आए हुए तस्करों को तस्कर कर दिया जाता है।